पेट साफ ना होने की समस्या से है परेशान? कहीं कब्ज तो नहीं है इसका कारण ! जानें कब्ज़ होने के कारण और उपाय
1 min read

पेट साफ ना होने की समस्या से है परेशान? कहीं कब्ज तो नहीं है इसका कारण ! जानें कब्ज़ होने के कारण और उपाय

कभी-कभी पेट साफ ना होना, ये तो एक आम सी बात लग सकती है। लेकिन जब ये परेशानी लंबे समय तक बनी रहे, तो ये चिंता का विषय बन जाता है। हालाँकि कब्ज एक आम समस्या है, लेकिन इसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए वरना ये एक जटिल समस्या बन सकती है। तो आज हम कब्ज के बारे में बात करेंगे। और जानेंगे कि कब्ज क्या है, इसके क्या कारण हैं, और इससे बचने के लिए हम क्या कर सकते हैं।

कब्ज है क्या?

कब्ज का सीधा मतलब है मल त्याग में परेशानी होना. आमतौर पर, हर 1-2 दिन में मल त्याग होना चाहिए। लेकिन कब्ज में ये प्रक्रिया धीमी हो जाती है, मल सख्त हो जाता है, और बाथरूम जाना मुश्किल हो जाता है।

कब्ज होने के कारण

कई कारण हैं जो कब्ज का सबब बन सकते हैं। आइए, उनमें से कुछ को जानते हैं:

पानी की कमी: शरीर में पानी की कमी होने से मल सख्त हो जाता है और बाहर निकालना मुश्किल हो जाता है।
खाने में फाइबर की कमी: फाइबर युक्त आहार पाचन क्रिया को दुरुस्त रखता है। अगर आप फाइबर कम खाते हैं, तो कब्ज की समस्या हो सकती है।
शारीरिक गतिविधि की कमी: रोजाना व्यायाम ना करने से भी कब्ज हो सकती है।
तनाव: तनाव की वजह से भी पाचन क्रिया प्रभावित होती है, जिससे कब्ज हो सकती है।
कुछ दवाइयां: कुछ दवाइयों के साइड इफेक्ट के रूप में भी कब्ज हो सकती है।
यात्रा: यात्रा के दौरान खान-पान और दिनचर्या में बदलाव की वजह से भी कब्ज हो सकती है।

कब्ज के लक्षण

हफ्ते में तीन बार से कम मल त्याग होना
मल त्याग में बहुत जोर लगाना पड़ना
पेट में फूलना या गैस बनना
पेट में दर्द या तकलीफ होना
मल का आकार छोटा और सख्त होना
ऐसा महसूस होना कि मल पूरी तरह से बाहर नहीं निकला

कब्ज से बचाव

कुछ आसान से तरीके अपनाकर आप कब्ज की समस्या से बच सकते हैं:

पानी ज़्यादा पिएं: रोजाना 8 से 10 गिलास पानी पीने की आदत डालें।
फाइबर युक्त आहार लें: अपनी डाइट में फल, सब्जियां, और साबुत अनाज शामिल करें।
नियमित व्यायाम करें: रोजाना कम से कम 30 मिनट व्यायाम करें।
तनाव कम करें: योग, मेडिटेशन या किसी और तरीके से तनाव को कम करने की कोशिश करें।
समय पर भोजन करें: खाने का एक निश्चित समय रखें और कोशिश करें कि रात का खाना जल्दी कर लें।
फाइबर युक्त पेय पदार्थ पिएं: इन्हीं फायदों के लिए आप सुबह के समय गुनगुना पानी के साथ नींबू और शहद मिलाकर भी पी सकते हैं।

कब डॉक्टर से सलाह लें

अगर आपने घरेलू उपाय अपना लिए हैं और फिर भी कब्ज की समस्या बनी हुई है, तो डॉक्टर से सलाह लेना जरूरी है। खासकर अगर आपको ये लक्षण दिखाई दें-

मल में खून आना
पेट में तेज दर्द होना
वजन कम होना
मल त्याग करने में असमर्थ होना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *