कार एयरबैग सेफ्टी देने के बजाय कहीं जान के दुश्मन न बन जाएं,
1 min read

कार एयरबैग सेफ्टी देने के बजाय कहीं जान के दुश्मन न बन जाएं,

आजकल कारों में सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए कई बेहतरीन फीचर्स दिए जा रहे हैं। इनमें से एक है एयरबैग। यह सच है कि एयरबैग्स अक्सर हादसों में जान बचाते हैं, लेकिन कुछ गलतियों के कारण यह जानलेवा भी बन सकते हैं। जानकारी के अभाव में लोग कई ऐसी गलतियां कर बैठते हैं , जिसकी वजह से कई लोगो को इस सेफ्टी फीचर से लाभ मिलने की जगह नुकसान झेलने पड़ जाते हैं । आज हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बताएंगे जिनका ध्यान रखकर आप एयरबैग्स से मिलने वाली सुरक्षा का पूरा लाभ उठा सकते हैं।

एयरबैग क्या होते हैं?

एयरबैग एक सॉफ्ट बैग होता है जो किसी दुर्घटना के दौरान ड्राइवर और सवारियों को चोटों से बचाने के लिए खुलता है। यह स्टीयरिंग व्हील, डैशबोर्ड और साइड पैनल पर पाया जाता है। हादसे के दौरान सेंसर टकराव का पता लगाते हैं और एयरबैग को खोलने का संकेत देते हैं। नाइट्रोजन गैस से भरा यह बैग 300 किलोमीटर प्रति घंटे से भी अधिक गति से खुलता है और सवारियों को चोटों से बचाता है।

एयरबैग्स का इस्तेमाल करते समय इन बातों का ध्यान रखें:

सीटबेल्ट का इस्तेमाल जरूर करें: एयरबैग कार का पैसिव सेफ्टी फीचर है। इसका मतलब है कि यह तभी काम करता है जब आप सीटबेल्ट पहने हों। सीटबेल्ट आपको अपनी जगह पर रखता है, जिससे एयरबैग आपको बेहतर तरीके से बचा सकता है।

सही सीटिंग: एयरबैग्स का प्रभावी ढंग से काम करने के लिए ड्राइवर और सवारियों को डैशबोर्ड से कम से कम 10 इंच की दूरी पर बैठना चाहिए। ड्राइवर को स्टीयरिंग व्हील से 10 इंच की दूरी पर बैठना चाहिए और उसके हाथ 3 से 9 बजे की स्थिति में होने चाहिए।

बच्चों को आगे न बैठाएं: 12 साल से कम उम्र के बच्चों को कभी भी आगे की सीट पर न बैठाएं। एयरबैग्स बड़े लोगों के लिए डिज़ाइन किए गए हैं और बच्चों को गंभीर रूप से घायल कर सकते हैं।

डैशबोर्ड पर टांगे न रखें: हादसे के दौरान, यदि आपके पैर डैशबोर्ड पर हैं, तो एयरबैग खुलने पर वे गंभीर रूप से घायल हो सकते हैं।

एयरबैग्स के साथ खिलौने या अन्य सामान न रखें: डैशबोर्ड या पैसेंजर सीट पर एयरबैग के पास कोई भी वस्तु न रखें। हादसे के दौरान, ये वस्तुएं एयरबैग को ठीक से खुलने से रोक सकती हैं या सवारियों को घायल कर सकती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *